देश

मोदी ने छात्रों को दिया लक्ष्य साधने का मंत्र

 

कोलकाता, राज्य ब्यूरो। रवींद्र नाथ टैगोर द्वारा स्थापित विश्वभारती विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में भाग लेने पहुंचे पीएम मोदी ने छात्रों को सफलता का मंत्र दिया। इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि छात्रों को जो भी असुविधा हुई उसके लिए मैं माफी मांगता हूं। विश्व भारती विश्वविद्यालय के प्रांगण में मैं मंदिर में मंत्रोच्चारण करने जैसी ऊर्जा महसूस करता हूं। मैं इस विश्वविद्यालय में कुलाधिपति के नाते आया हूं, मेहमान की तरह नहीं।श्श्
पीएम मोदी ने कहा, श्श्मैं जब मंच की तरफ आ रहा था, तो ये सोच रहा था कि कभी इसी भूमि पर गुरुदेव के कदम पड़े होंगे। यहां कहीं आसपास बैठकर उन्होंने शब्दों को कागज पर उतारा होगा, कभी कोई धुन, कोई संगीन गुनगुनाया होगा, कभी महात्मा गांधी से लंबी चर्चा की होगी, कभी किसी छात्र को जीवन का मतलब समझाया होगा।श्श् उन्होंने कहा कि गुरुदेव रवींद्रनाथ टैगोर के विचार आज भी प्रासंगिक हैं।   ‑वेब