राज्य

राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी पर बोला हमला

मंदसौर, 6 जून (आईएएनएस)द्य कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा हमला बोलते हुए बुधवार को यहां कहा कि उन्होंने इस देश के युवाओं के साथ दो सबसे बड़े धोखे किए हैं।
उन्होंने कहा कि हर साल दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने और हरेक के बैंक खाते में 15 लाख रुपये जमा करने का वादा कर मोदी ने युवाओं को धोखा देने का काम किया है। मध्य प्रदेश के मंदसौर में किसानों पर हुई गोलीबारी की पहली बरसी पर पिपलियामंडी में आयोजित किसान समृद्धि और श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा, मोदी ने दो करोड़ युवाओं को हर साल रोजगार देने और 15 लाख रुपये हर खाते में डालने की बात कही थी, लेकिन 15 लाख तो छोड़िए इस भीड़ में मोदी ने किसी को पांच रुपये भी दिए।
राहुल ने प्रधानमंत्री मोदी के मेक इन इंडिया नारे पर भी हमला किया। उन्होंने कहा, जो भी चीज देखो हर पर लिखा होता है, मेड इन चाइना। हमारे प्रधानमंत्री गुजरात में चीन के राष्ट्रपति के साथ झूला झूलते हैं और डोकलाम में चीन की सेना घुस आती है, मगर उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता। हमारे देश का युवा रोजगार के लिए भटक रहा है, उसे नहीं मालूम कि कल क्या होगा। वहीं हर तरफ ‘मेड इन चाइना‘ के सामानों की भरमार है।
राहुल ने घोषणा की, मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही 10 दिनों में किसानों का कर्ज माफ कर दिया जाएगा। जिन लोगों ने मंदसौर में किसानों पर गोली चलाई है, उन पर मामले दर्ज कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। ‑वेब
नेहरू-इंदिरा ने केवल देश को दिया धोखा
बीजेपी अगर गांधी नेहरू परिवार पर सवार उठाए तो ये सियासत का तकाजा लगता है. लेकिन अगर कोई कांग्रेस नेता और वो भी पूर्व मंत्री ऐसा करे तो क्या कहेंगे. राजस्थान के पूर्व मंत्री भरोसीलाल जाटव का एक वीडियो वाइरल हो रहा है, जिसमें वो पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी को भला बुरा कहते दिख रहे हैं।
कहा जा रहा है कि जाटव ने ये बयान 27 मई को करौली में नेहरू की पुण्यतिथि पर एक कार्यक्रम में दिया था. हालांकि मामला तूल पकड़ने के बाद भरोसीलाल सफाई दे रहे हैं कि ये वीडियो बीजेपी की साजिश है.
दरअसल भरोसीलाल जाटव का ये वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. जिससे राजनीतिक गलियारों में खलबली मची हुई है. वायरल वीडियो में पूर्व मंत्री यह कहते हुए दिख रहे हैं कि पूर्व प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू एवं इंदिरा गांधी ने स्वतंत्रता के नाम पर एक अंगुली भी नहीं कटाई और इन्होंने देश को धोखा दिया है। ‑वेब