लखनऊ

बुजुर्ग महिला की घर में लूटपाट के बाद हत्या

लखनऊ। राजधानी में बुजुर्ग महिला की घर में लूटपाट के बाद हत्या कर दी गई। 74 वर्षीय बुजुर्ग महिला का शव उसके घर के कमरे में पड़ा मिला। घर के कमरे का सारा सामान बिखरा हुआ था। ऐसा लग रहा था कि लूट का विरोध करने पर बदमाशों ने बुजुर्ग महिला की हत्या की है। इस सनसनीखेज घटना का पता उस वक्त हुआ जब घर की नौकरानी काम के लिए पहुंची। फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।
गाजीपुर के इन्दिरानगर सेक्टर 11 मकान नम्बर 89 में एलआईसी फाउसिंग फाइनेंस आलमबाग के ब्रांच मैनेजर नितिन अपने परिवार के साथ रहते हैं। मौजूदा समय में उनकी पत्नी दीपा अपने मायके अलीगढ़ गयी हैं। घर पर नितिन की मां 74 वर्षीय कृष्णा वार्ष्णेय घर पर अकेली थीं। बुधवार की सुबह नितिन रोज की तरह अपनी ड्यूटी पर चले गये। शाम के वक्त उनकी नौकरानी नेहा काम के लिए घर पहुंचीं। उस वक्त घर का एक दरवाजा खुला था, जबकि दूसरे दरवाजे पर अंदर से कुंडकी लगी थी। नौकरी नेहा मां जब घर के अंदर पहुंची तो मंजर देख सन्न रह गयी। कमरे में बुजुर्ग कृष्णा का शव फर्श पर पड़ा था। कमरे में रखा सारा सामान बिखरा पड़ा था और आलमारी खुली थी। नौकरानी ने मंजर देखते ही सहम गयी। वह घर से बाहर निकली और पड़ोसी के घर में चली गयी, जहां पर काम करती थी। नेहा के चेहरे पर हवाईयां उठ रही थीं। पड़ोसी ने जब नेहा की यह हालत देखी तो उससे बात की। नेहा ने इसके बाद सारे बात पड़ोसी को बतायी।
पुलिस ने छानबीन के लिए मौके पर फारेंसिक टीम और डाग स्क्वायड को भी बुला लिया। कमरे में बिखरा सामान इस बात की गवाही दे रहा था कि घर में लूटपाट की गयी है। परिवार के लोगों का कहना है कि लूटपाट का विरोध करने पर बदमाशों ने
कृष्णा की हत्या कर दी। छानबीन के बाद गाजीपुर पुलिस ने बुजुर्ग महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। फिलहाल पुलिस लूटपाट के दौरान हत्या और अन्य सभी पहलुओं पर छानबीन कर रही है। ‑वेब

Advertisement

Advertisement

Advertisement