राज्य

भय्यूजी महाराज पर बेटी का विवादास्पद बयान

भय्यू महाराज की बेटी कुहू का कहना है कि वह डॉ. आयुषी को मां नहीं मानती। इन्हीं के कारण पिता ने यह कदम उठाया। इन्हें जेल में बंद कर दो। यह कथन कितना सच और झूठ है, यह पुलिस जांच में पता चलेगा। वहीं डॉ आयुषी ने भी कथित तौर पर रिश्तेदारों और करीबियों से निजी चर्चा में कहा है कि कुहू को वह और उनकी बेटी पसंद नहीं थे। बहरहाल, पुलिस सारे पहलुओं की जांच करने के बाद ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचेगी।
पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) हरि नारायणचारी मिश्र ने बुधवार को कहा कि मौके से मिले सबूतों और मामले की शुरुआती जांच के आधार पर हम कह सकते हैं कि भय्यू महाराज ने खुद को गोली मारकर जान दी। घटना का स्वरूप और प्रकृति एकदम साफ है। उन्होंने खुदकुशी का कदम क्यों उठाया, इसकी कई पहलुओं से जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि शुरुआती जांच में इस बात के संकेत जरूर मिले हैं कि वह पारिवारिक कलह के कारण से तनाव में थे लेकिन अलग-अलग सबूतों और बयानों की रोशनी में विस्तृत जांच जारी होने के चलते हम उनकी खुदकुशी के वास्तविक कारण को लेकर किसी अंतिम नतीजे पर नहीं पहुंचे हैं। घटना में जिस रिवॉल्वर का इस्तेमाल हुआ है, उसे जांच के लिए अपराध विज्ञान प्रयोगशाला भेजा गया है। यह पता लगाया जा रहा है कि इसका लाइसेंस किसके नाम पर है।
भय्यू महाराज ने मंगलवार को सिल्वर स्प्रिंग स्थित अपने घर के जिस कमरे में खुद को गोली मारी, वह उनकी बेटी का है। पूना से जब भी बेटी आती थी तो इसी कमरे में रुकती थी। भय्यू को अपनी बेटी से गहरा लगाव था। उसका कमरा अस्तव्यस्त देखकर वह नाराज भी हुए थे। बुधवार सुबह कुछ देर के लिए उनका शव स्कीम नंबर 74 स्थित घर शिवनेरी ले जाने के बाद सूर्या आश्रम पर दर्शनों के लिए रखा गया। उनकी पत्नी डॉ. आयुषी और बेटी पूरे समय पार्थिव देह के पास रहीं। बड़ी संख्या में समर्थकों और आम लोगों ने अंतिम दर्शन किए और श्रद्धांजलि अर्पित की।
इंदौर पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि घटना के एक दिन पहले सोमवार को भय्यू महाराज जिस महिला से मुलाकात करने शहर के एक रेस्टोरेंट पहुंचे थे, वह कौन थी। सीसीटीवी में दोनों की तस्वीर दर्ज हुई है। दोनों के बीच करीब 40 मिनट तक बातचीत हुई। किसी बात पर बहस भी होते देखी गई। उस वक्त भय्यू महाराज को जानने वाले कुछ अन्य लोग भी रेस्टोरेंट में मौजूद थे। पुलिस इन सबके बारे में पता कर रही है। ‑वेब