देश

एडीबी ने पेश किया 19 जिलों में 1.5 लाख करोड़ के निवेश का खाका

एशियन डवलपमेंट बैंक के कंट्री डायरेक्टर केनेची योकोयामा ने बृहस्पतिवार को मुख्य सचिव राजीव कुमार के सामने प्रदेश के विकास के लिए यूपी इन्फ्रास्ट्रक्चर फ्रेमवर्क प्लान के निष्कर्षों का प्रजेंटेशन दिया। इसमें सरकार की घोषणाओं व प्राथमिकताओं को ध्यान में रखते हुए 19 जिलों को 11 सेक्टर व छह क्लस्टर में बांटकर 1.5 लाख करोड़ रुपये के पूंजी निवेश की झलक पेश की गई है। इससे लाखों की संख्या में रोजगार के सृजन का दावा किया गया है। प्रदेश सरकार ने पहले चरण में छह में से तीन क्लस्टर में काम शुरू करने का फैसला किया है।
अपर मुख्य सचिव नियोजन संजीव सरन ने बताया कि एडीबी ने इन 19 जिलों की तरक्की के लिए 11 सेक्टर्स का चयन किया है। इनमें फूड प्रोसेसिंग एवं बेवरेजेज, लेदर व संबंधित उत्पाद, बेसिक मेटल्स एवं फैब्रिकेटेड मेटल उत्पाद, केमिकल्स, इलेक्ट्रॉनिक्स, परिधान, ऑटो मोबाइल कंपोनेंट व शीशे के उत्पादों के रूप में आठ मुख्य संगठित सेक्टर की पहचान की गई है। इसके अंतर्गत करीब 242 मल्टी सेक्टोरल परियोजनाएं चिह्नित की गई हैं। वन डिस्ट्रिक्ट‑वन उत्पाद प्रोजेक्ट पर भी फोकस करने की सलाह दी गई है।
छह जोन के 19 जिले
पश्चिमी क्षेत्र — गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, बुलंदशहर, अलीगढ़ व मेरठ।
दक्षिण पश्चिमी क्षेत्र- आगरा, फिरोजाबाद।
मध्य क्षेत्र — कानपुर नगर, उन्नाव, लखनऊ।
उत्तरी क्षेत्र — अमरोहा, बिजनौर, मुरादाबाद।
पूर्वी क्षेत्र- वाराणसी, सोनभद्र, इलाहाबाद व गोरखपुर।
बुंदेलखंड क्षेत्र — झांसी व चित्रकूट। ‑वेब