लखनऊ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यातायात व्यवस्था को सुधारने के दिए निर्देश

लखनऊ। शहर में अक्सर जाम की समस्या से यहां के स्थानीय लोग तो परेशान रहते ही हैं, वहीं बाहर से आने वाले लोगों के भी पसीने छूट जाते हैं। इस समस्या से निजात दिलाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यातायात व्यवस्था को सुधारने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए लखनऊ के चौराहों को चौड़ा करने और वेंडिग जोन तय करने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने यह आदेश यातायात व्यवस्था सुधारने के लिए बनाए गए प्रॉजेक्ट को देखते समय दिए। उन्होंने इस मौके पर यूपी पुलिस ट्रैफिक ऐप भी लांच किया।
इस मौके पर ट्रैफिक निदेशालय लखनऊ पुलिस की ओर से यातायात सुधार के लिए हो रहे कार्यों का पॉवर पॉइंट प्रजेंटेशन सीएम को दिखाया गया। सीएम ने लोक निर्माण विभाग, एलडीए, एनएचएआई, नगर निगम, परिवहन विभाग, सिंचाई विभाग और एलएमआरसी के अधिकारियों को यातायात सुधार के लिए लंबित कामों को जल्द पूरा करने का निर्देश दिया। इसमें नो-एंट्री बोर्ड, जेब्रा लाइन, चैराहों का निर्माण, डिवाइडर, लेफ्ट टर्न, यू-टर्न, सड़क चौड़ीकरण, अंडरपास का विकास, सड़क की लेवलिंग जैसे काम शामिल हैं। उन्होंने फेरी नीति को भी प्रभावी करने के निर्देश दिए।
सीएम ने कहा कि स्कूलों और शैक्षणिक संस्थाओं के खुलने व बंद होने के समय पर पुलिस व प्रशासन वाहनों की पार्किंग की व्यवस्था सुनिश्चित करे। पैदल चलने वालों के लिए फुटपाथ सिग्नल, डिवाइडर की व्यवस्था की जाए। वन‑वे प्लान को प्रभावी रूप से लागू किया जाए। यात्री शेड का पर्याप्त निर्माण करवाकर बस टर्मिनल विकसित किए जाए। शहर में भारी यातायात को कम करने के लिए बाहरी रिंग रोड की मरम्मत व विकास कार्य किया जाए। ‑वेब