लखनऊ

कानपुर‑लखनऊ के बीच बनेगा ज्वैलरी पार्क

यूपी से सराफा मजदूरों और कारीगरों का पलायन रोकने के लिए ज्वैलरी पार्क बनाए जाने की पहल यूपी सराफा एसोसिएशन ने की है। यूपी सराफा एसोसिएशन और दक्षिण सराफा कमेटी की बैठक बुधवार को गोविंद नगर में हुई। यूपी के मुख्य संगठन संयोजक कैलाश नाथ अग्रवाल ने कहा कि ज्वैलरी पार्क के लिए औद्योगिक मंत्री सतीश महाना से जमीन मांगी गई है। साथ ही उनको कार्ययोजना भी सौंप दी गई है। सूत्रों के मुताबिक महाराजपुर में जमीन प्रस्तावित है। यह मेन्युफैक्चरिंग क्लस्टर होगा, जहां ट्रेनिंग और टेस्टिंग का इंतजाम होगा। प्रस्तावित ज्वैलरी पार्क से लाखो लोगों को रोजगार मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश का ज्वैलरी सेक्टर स्किल्ड लेबर, कमजोर इंफ्रास्ट्रक्चर और टेक्नोलॉजी के आभाव का सामना कर रहा है। प्रदेश मंत्री रामकिशोर मिश्रा ने बताया कि यदि व्यापारी संगठित रहेगा तो हर कठिनाई का सामना आसानी से कर सकेंगे। जीएसटी की विसंगतियों से कारोबार में परेशानी के लिए लीगल सेल का गठन किया गया है, जिससे व्यापारी अपनी समस्याओं को आसानी से हल करा सकता है। मीडिया प्रभारी अमित बाजपेई ने यूपी सराफा के पदाधिकारियों से असलहें का लाइसेंस प्राथमिकता पर बनाए जाने, सोने-चांदी के हालमार्क नियमों को आसान किए जाने सहित अन्य मांगे रखी। इस मौके पर अध्यक्ष गोपाल अग्रवाल, प्रतीक अग्रवाल, सुमित अग्रवाल, राजेन्द्र चौहान, अजीत गुप्ता, जमुना वर्मा मौजूद रहे। ‑वेब

Advertisement

Advertisement

Advertisement