मनोरंजन

नाना पाटेकर से डरी हईं थीं तनुश्री दत्ता

’आशिक बनाया आपने’, ’चॉकलेट’, ’रकीब’, ’ढोल’ जैसी फिल्मों में नजर आ चुकीं मिस इंडिया 2003 तनुश्री दत्ता ने अचानक इंडस्ट्री को अलविदा कह दिया और फिल्मी परदे से गायब हो गईं, मगर जल्द ही वह एक बार फिर अभिनय करती नजर आएंगी। बता दें कि अमेरिकी नागरिकता मिलने के बाद वह विदेश चली गईं, मगर अब वह भारत लौट आई हैं। हमारे साथ बातचीत में उन्होंने फिल्में छोड़ने की वजह, नेपोटिज़म, अध्यात्म जैसे कई मुद्दों पर बेबाकी से अपनी बात रखी…
इंडस्ट्री छोड़ने का सबसे बड़ा कारण सभी को पता है। ’हॉर्न ओके प्लीज’ की शूटिंग के दौरान मेरे साथ हुए हादसे ने मुझे झकझोर कर रख दिया था। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मेरे साथ ऐसा हो सकता है। सीनियर ऐक्टर (नाना पाटेकर) के साथ हुए उस पंगे ने मुझे डरा दिया था। मुझे याद है उस वक्त मेरा मैनेजर भी मुझे छोड़कर भाग गया था। मेरी गाड़ी पर हमला किया गया। मेरे और परिवार वालों को जान का खतरा हो गया था। चारों तरफ मेरे बारे में नेगेटिव बयान दिए जा रहे थे। टीवी पर चल रहा होता था कि इस लड़की को इंडस्ट्री से बाहर निकाल देंगे। मैं यह सब देखकर सुन्न हो गई थी। मैं इतनी कांप चुकी थी कि मुझे सेट पर जाने से डर लगता था। मैं काम नहीं करना चाहती थी, इमोशनली थक चुकी थी। वहीं दूसरी ओर अपने काम से भी संतुष्ट नहीं थी। मुझे लगता था कि मेरे बाद आईं अभिनेत्रियां मुझसे आगे निकल रही हैं, बेहतर कर रही हैं और मैं अभी भी कहीं फंसी पड़ी हूं। मेरे काम को कोई प्रोत्साहित करने वाला नहीं था। ‑वेब