राज्य

खत लिखो और पाओ 50 हजार रुपए का इनाम

भोपाल। पत्र लेखन प्रतियोगिता का आयोजन डाक विभाग द्वारा किया जा रहा है। इस प्रतियोगिता में किसी भी उम्र का व्यक्ति भाग ले सकता है। प्रतियोगिता में शामिल होने वाले प्रतिभागी को घर बैठकर ’मेरे देश के नाम खत’ लिखना है क्योंकि पत्र लेखन का यही विषय डाक विभाग ने निर्धारित किया है। सर्वश्रेष्ठ तीन पत्रों को पुरस्कृत किया जाएगा। प्रथम पुरस्कार बतौर 50 हजार रुपए की राशि प्रतिभागी को मिलेगी।

प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए प्रतिभागी को अंतरदेशीय या या सादे कागज पर पत्र लिखना है। अंतरदेशीय के लिए यह खत 500 शब्दों में लिखा जाएगा जबकि लिफाफे में भेजे जाने वाले पत्र की शब्द संख्या एक हजार होगी। पत्र लिखने के बाद इसे मुख्य पोस्टमास्टर जनरल परिमंडल कार्यालय, भोपाल‑462012 को साधारण डाक के माध्यम से भेजना है। लिफाफे या अंतरदेशीय के सबसे ऊपर मेरे देश के नाम खत लिखना जरूरी है। प्रतियोगिता में उम्र का कोई बंधन नहीं है। लेकिन पत्र में प्रतिभागी को उम्र के संबंध में स्वहस्ताक्षरित प्रमाण‑पत्र देना होगा कि 1 जनवरी 2018 को वह कितनी उम्र का हो गया है। प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए पत्र 30 सितंबर तक हर हाल में भेजना है।
पत्र लिखने के लिए भाषा का भी बंधन प्रतिभागी के लिए नहीं है। यह प्रतियोगिता देश भर में आयोजित हो रही है। इसलिए हिन्दी, अंग्रेजी के अलावा क्षेत्रीय भाषा में पत्र लिखने की छूट दी गई है। प्रतियोगिता में शामिल होने वाले पत्र भोपाल भेजे जाना है। मध्यप्रदेश परिमंडल से प्रथम, द्वितीय व तृतीय विजेताओं की घोषणाओं के बाद चयनित पत्रों को महानिदेशालय दिल्ली भेजा जाएगा। वहां भी इनमें से सर्वश्रेष्ठ तीन पत्रों को 50 हजार, 25 हजार व 10 हजार रुपए के पुरस्कार दिए जाएंगे। ‑वेब