राज्य

अमित शाह ने कार्यकर्ताओं को अपने काम पर डटे रहने की अपील की

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को मेरठ में भाजपा की प्रदेश कार्यसमिति में उन कार्यकर्ताओं को पुचकारते हुए संदेश देने की कोशिश की जो योगी सरकार में अपने निजी काम‑काज को लेकर बढ़ी उम्मींद रखे हैं। अमित शाह ने कहा कि हम सपा-बसपा से तो लड़ सकते हैं, उनके गठबंधन से भी हमें फर्क नहीं पड़ता लेकिन आप मेरे परिवार के हो इसलिए आप से नहीं लड़ सकता हूं। उन्होंने मिसाल देते हुए कहा कि दुल्हा अगर काना भी होता है तो शादी में औरते मंगल गीत गाती हैं। आपकी तो केंद्र और प्रदेश की सरकारें पूरी तरह से स्वस्थ हैं। दुल्हा भी अच्छा है बाराती भी अच्छें हैं तो उनकी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाए।
उन्होंने कहा कि सपा-बसपा के गठबंधन से कोई फर्क नहीं पड़ेगा और इस गठबंधन की काट यही है कि हम अपने मत प्रतिशत को 51 प्रतिशात तक ले जाए। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस ने 55 साल में देश को बर्बाद करके रखा दिया। इस दौरान विकास अवरूद्ध हो गया। शाह ने सपा-बसपा को बारी-बारी से निशाने पर लिया उन्होंने कहा कि सपा ने अपनी सरकार के रहते केवल अपने बंगलों की चिंता कि जबकि हमने गरीब को घर देने की चिंता करते हुए उन्हें घर दिया। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत यह काम हो रहा है। बसपा को लेकर शाह ने कहा कि 2014 में जीरो सीट लाने वाली पार्टी 2019 के चुनाव में क्या कर पाएगी। सपा, बसपा, कांग्रेस पहले भी मिलकर चुनाव लड़ चुके हैं तब भी हम उनसे ज्यादा सीट पाए थे।
अमित शाह ने प्रदेश की योगी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि सरकार प्रदेश के विकास के लिए बेहतरीन काम कर रही है। योगी सरकार में कानून‑व्यवस्था में सुधार आया है और पश्चिम उप्र से पलायन भी बंद हो गया। प्रदेश में निवेश का माहौल बना है। ‑वेब