मनोरंजन

स्मिता पाटिल के दीवाने थे राजबब्बर

फिल्मों में आने से पहले राज बब्बर ने स्ट्रीट थियेटर से एक्टिंग की ट्रेनिंग ली थी। फिल्म ’इंसाफ का तराजू’ में राज बब्बर ने एक बलात्कारी का किरदार निभाया था। इस रोल ने ही राज बब्बर को बॉलीवुड में पहचान दिलाई और फिर उन्होंने कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा। इस फिल्म में राज को जीनत अमान के साथ रेप सीन करना था जिसकी वजह से वह काफी घबरा गए थे। राज बब्बर इस बात को लेकर डरे हुए थे कि वो नए हैं और जीनत अमान इतनी बड़ी हीरोइन।
’इंसाफ का तराजू’ फिल्म के बाद राज बब्बर बी आर चोपड़ा के मानों फेवरेट एक्टर बन गए थे। उन्होंने लगभग अपनी सारी फिल्मों में राज बब्बर को काम देना शुरू कर दिया था। राज ऐसे हीरो थे जो विलेन से लेकर हीरो सभी किरदारों में आसानी से अपने आप को फिट कर लेते थे। राज बब्बर फिल्मों के अलावा अपने निजी रिश्तों के लिए भी काफी चर्चा में रहे। जब राज बब्बर स्ट्रगल कर रहे थे तभी उन्हें नादिरा से प्यार हो गया जिसके बाद दोनों ने 1975 में शादी कर ली थी।
राज बब्बर ने दो शादियां की थी उनकी पहली पत्नी का नाम नादिरा और दूसरी का नाम स्मिता पाटिल हैं। कहा जाता है कि फिल्म ’भीगी पलकें’ के दौरान राज बब्बर और स्मिता पाटिल को प्यार हो गया था। राज उस वक्त स्मिता के प्यार में इस कदर पागल थे कि कुछ भी कर सकते थे।
स्मिता की दीवानगी राज बब्बर के सिर इतनी चढ़ गई थी कि 80 के दशक में ही राज और स्मिता लिव‑इन‑रिलेशनशिप में रहने लगे थे। इसके साथ ही राज ने नादिरा को छोड़ स्मिता से शादी तक रचा ली थी।
राज बब्बर ने 38 साल के करियर में एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्में दी हैं। जिसमें निकाह ‚सौ दिन सास के, इंसाफ का तराजू, उमराव जान और दौलत फिल्में शामिल हैं। ‑वेब