लखनऊ

रेलवे स्टेशनों को अत्याधुनिक बनाने में रोबोट की अहम भूमिका

लखनऊ के गोमतीनगर रेलवे स्टेशन को अत्याधुनिक बनाने में रोबोट भी अहम भूमिका निभाएंगे। इसके लिए कंस्ट्रक्शन रोबोट्स की सहायता ली जाएगी। फिलहाल रोबोटों से स्टेशन की 40 एकड़ जमीन की पैमाइश की गई है। निर्माण कार्य में रोबोटिक ड्रोन उपयोग करने पर प्रयोग शुरू हो गए हैं।
पूर्वोत्तर रेलवे के गोमतीनगर स्टेशन को 1,910 करोड़ रुपये से अत्याधुनिक बनाया जा रहा है। इसके लिए इसकी खाली पड़ी जमीन पर काम शुरू हो गया है। रेलवे भूमि विकास प्राधिकरण (आरएलडीए) व नेशनल बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन कॉरपोरेशन (एनबीसीसी) स्टेशन का पुनर्विकास कर रही है।
गोमतीनगर देश का पहला स्टेशन होगा, जहां निर्माण कार्य में रोबोटों की मदद ली जा रही है। इसके लिए युवा इनोवेटर मिलिंद राज का सहयोग लिया गया है। पैमाइश के सफल प्रयोग के बाद निर्माण कार्य में रोबोट्स और खासतौर से ड्रोन तकनीक आधारित रोबोटों के इस्तेमाल पर बातचीत शुरू हुई है। इसके ट्रायल लखनऊ, चेन्नई और दिल्ली स्थित रेलवे की निर्माण साइट्स पर चल रहे हैं। यहां सफलता के बाद गोमतीनगर स्टेशन के निर्माण में इनका उपयोग होगा। ‑वेब

Advertisement

Advertisement

Advertisement