देश

सिद्धू के खालिस्तान समर्थक के साथ तस्वीर खिंचवाने से खड़ा हुआ विवाद

नई दिल्ली। करतारपुर साहिब गलियारे की नींव बुधवार को भारत‑पाकिस्तान में रखी गई. इस मौके पर पाकिस्तान के आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा और खालिस्तान समर्थक गोपाल सिंह चावला के साथ मिलने की तस्वीर से विवाद खड़ा हो गया है. खालिस्तान समर्थक और हाफिद सईद के करीबी गोपाल सिंह चावला के साथ सिर्फ नवजोत सिंह सिद्धू ने ही फोटो नहीं खिंचवाई है, बल्कि शिरोमणी गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रमुख गोबिंद सिंह लोंगोवाल ने भी उसके साथ फोटो खिंचवाई.
नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान जाने का विवाद अभी थमा भी नहीं था कि अब गोपाल चावला के साथ फोटो खिंचवाने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. दिल्ली के विधायक और अकाली नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने गुरुवार सुबह एक फोटो ट्वीट करते हुए सिद्धू की खालिस्तानी आतंकी गोपाल के साथ तस्वीर साझा की.
सिद्धू का चावला के साथ फोटो खिंचवाने को लेकर जम्मू में विरोध‑प्रदर्शन शुरू हो गया है. डोगरा फ्रंट को कार्यकर्ता सिद्धू की चावला के साथ मुलाकात और फोटो खिंचवाने पर विरोध कर रहे हैं. प्रदर्शनकारियों ने उनका पुतला जलाया और पंजाब सरकार ने मांग की कि उन्हें मंत्री पद से बर्खास्त किया जाए.
अकाली नेता और विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने ट्विटर पर फोटो शेयर करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर सवाल उठाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री ने यह कहते हुए पाक का दौरा करने से मना कर दिया था कि पाक भारत और पंजाब के खिलाफ गतिविधियों का समर्थन करता है, लेकिन उसके अपने ही मंत्री (नवजोत सिंह सिद्धू) उनकी इच्छा के खिलाफ वहां जाते हैं और गोपाल सिंह चावला के साथ फोटो खिंचवाते हैं, जो हाफिज सईद का करीबी और भारत विरोधी है. क्या कैप्टन साहब अपने गैरजिम्मेदार मंत्री को हटाएंगे. ‑वेब