लखनऊ

ऐशबाग में आवासीय योजना का प्रस्ताव


लखनऊ। एलडीए ऐशबाग स्थित करेहटा और दुगांव इलाके के 3.54 हेक्टेयर जमीन का भू उपयोग औद्योगिक से बदलकर आवासीय करने जा रहा है। यहां बड़ी आवासीय योजना लाने की तैयारी है। यहां से उद्योगों को पहले ही हटाया जा चुका है। इस संबंध में पांच जनवरी को होने वाली एलडीए की बोर्ड बैठक में प्रस्ताव लाकर हरी झंडी देने की तैयारी है। इसके अलावा देवपुर पारा में आंवटी न मिलने के कारण करीब 2000 फ्लैट्स घटाते हुए उनकी जगह स्कूल, पार्क और बिजली उपकेंद्र बनाने का प्रस्ताव भी बोर्ड के समक्ष रखा जाएगा। एलडीए की ओर से कमिश्नर कार्यालय भेजे गए बोर्ड बैठक के एजेंडे के मुताबिक, भवन निर्माण एवं विकास उपविधि में बदलाव करते हुए टेलीकॉम कंपनियों को भी बड़ी राहत देने की तैयारी है।
भवन निर्माण एवं विकास उपविधि के मुताबिक, मोबाइल टावर लगाने वाली कंपनी को काम शुरू करने से पहले मानचित्र और शपथपत्र के साथ एक लाख रुपये फीस जमा करनी पड़ती थी। फिर तीन साल बाद इस फीस का 25 फीसदी लाइसेंस के नवीनीकरण के लिए देना होता था। यह रकम इंफ्रास्ट्रक्चर डिवेलपमेंट फंड में जमा होती थी। इस नियम को बदलते हुए अब अन्य जरूरी प्रमाणपत्रों के साथ फीस घटाकर केवल 10 हजार करने का प्रस्ताव बना है। ‑वेब