लखनऊ

पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारों के बीच लागों ने किया विरोध प्रदर्शन

लखनऊ। पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए 44 सीआरपीएस के जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए लखनऊ में कई जगह शोक सभाएं हुईं। बलरामपुर अस्पताल के कर्मचारियों व डॉक्टरों ने शहीदों के परिवारों के लिए 20 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की। दो मिनट का मौन रखा और कैंडल मार्च निकाला। निदेशक डॉ. राजीव लोचन ने कहा कि पाकिस्तान का चेहरा बेनकाब हुआ है। आतंक के खिलाफ अब इंसानियत मजबूती से खड़ी है। केंद्र सरकार इतने सख्त कदम उठाएगी कि भारतीय सैनिकों की शहादत बेकार नहीं जाएगी।
धर डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल में निदेशक डीएस नेगी, डॉक्टर व कर्मचारियों ने दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी। सभी ने शहीद परिवारों को आर्थिक मदद देने का भी ऐलान किया। केजीएमयू में प्रशासनिक भवन से कैंडल मार्च निकाला गया। कुलपति प्रो. एमएलबी भट्ट के अलावा कैंडल मार्च में बड़ी संख्या में डॉक्टर, कर्मचारी व विद्यार्थी शामिल हुए। केजीएमयू शिक्षक संघ व कर्मचारी संघ द्वारा यह मार्च निकाला गया। वहीं डॉ. राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में निदेशक डॉ. दीपक मालवीय के साथ डॉक्टर व कर्मचारियों ने श्रद्धांजलि सभा की और शहीदों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। ‑वेब

Advertisement

Advertisement

Advertisement