देश

इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटलाइट कक्षा में स्थापित

इसरो ने सोमवार को रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) के लिए एक इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटलाइट को उसकी कक्षा में स्थापित कर दिया। साथ‑साथ दूसरे देशों के 28 उपग्रह (अमेरिका के 24, लिथुआनिया के दो और स्पेन तथा स्विट्जरलैंड के एक-एक उपग्रह) को लेकर लगभग 239 किलोग्राम वजनी पीएसएलवी रॉकेट ने सुबह 9.27 बजे उड़ान भरी।
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) ने पीएसएलवी ब्-45 रॉकेट के जरिए सोमवार सुबह श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से म्डप्ै।ज् समेत 29 सैटलाइट को सफलतापूर्वक उनकी कक्षा में स्थापित कर दिया। इन उपग्रहों में सबसे खास म्डप्ै।ज् यानी इलेक्ट्रॉनिक इंटेलिजेंस सैटलाइट है जिसे अंतरिक्ष में भारत की श्आंख और कानश् कहा जा रहा है। इसरो के मुताबिक विद्युत चुंबकीय स्पेक्ट्रम को मापने वाले म्डप्ै।ज् को सुबह 9.44 मिनट पर कक्षा में स्थापित कर दिया गया। ‑वेब