राज्य

गिरिराज सिंह को अपनों ने ही बुरी तरह लताड़ा

पटना। गिरिराज ने अखबारों और सोशल मीडिया पर पटना में विभिन्न दलों के नेताओं द्वारा आयोजित इफ्तार के फोटो देखकर नसीहत क्या दे डाली, विपक्ष तो पीछे रह गया उनकी अपनी पार्टी के नेताओं और सहयोगी जनता दल यूनाइटेड के नेताओं ने उनकी आलोचना में कोई कसर नहीं छोड़ी. अब तो गिरिराज के समर्थक भी मानते हैं कि उनके राजनीतिक जीवन में चंद घंटों में उन्हें कभी इतनी राजनीतिक फजीहत नहीं झेलनी पड़ी.
‘‘कितनी खूबसूरत तस्वीर होती जब इतनी ही चाहत से नवरात्रि पे फलाहार का आयोजन करते और सुंदर सुदंर फोटो आते??…अपने कर्म धर्म मे हम पिछड़ क्यों जाते और दिखावा में आगे रहते है???
इस ट्वीट पर गिरिराज के लिए सबसे करारा तमाचा वह खबर रही होगी जो सभी चैनलों पर आने लगी कि राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस ट्वीट के मुद्दे पर उनसे बातचीत की है और उनकी क्लास लगाई है. भविष्य में ऐसे ट्वीट न करने की नसीहत भी दी है. इस खबर के आने से पहले उप मुख्यमंत्री और बिहार ठश्रच् के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने गिरिराज के इस बयान की निंदा की. मोदी ने गिरिराज को आड़े हाथों लेते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समर्थन में कहा कि चाहे राम नवमी की पूजा हो या नवरात्र, होली मिलन हो या इफ्तार, नीतीश कुमार न केवल सब में भाग लेते हैं बल्कि अगर बात आयोजन करने की हो तो भी पीछे नहीं हटते. ‑वेब