Uncategorized

सुपर 30 के संचालक आनंद कुमार पर धोखाधड़ी का आरोप

पटना। पटना के कोचिंग संस्थान सुपर 30 के संचालक व गणितज्ञ आनंद कुमार पर आइआइटी प्रवेश परीक्षा के नाम पर धोखाधड़ी का आरोप लगा है। मामले की सुनवाई गुवाहाटी हाईकोर्ट में चल रही है।
गरीब मेधा को तराशकर आइआइटी में प्रवेश दिलाने के लिए विख्यात पटना के ’सुपर 30’ कोचिंग संस्थान के संचालक गणितज्ञ आनंद कुमार इन दिनों अदालती चक्कर से परेशान हैं। गुवाहाटी हाईकोर्ट ने एक जनहित याचिका की सुनवाई के दौरान बीते 19 नवंबर को उनपर 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है। साथ ही गुरुवार 28 नवंबर को व्यक्तिगत रूप से कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया। याचिकाकर्ता छात्रों ने आनंद पर सुपर 30 के नाम पर ठगी का आरोप लगाया है।
विदित हो कि आइआइटी गुवाहाटी के छात्र अविनाश बारो, मनजीत डोले, विकाश दास, और धनीराम ताऊ ने सितंबर 2018 में गुवाहाटी हाईकोर्ट में पीआइएल दाखिल कर आनंद कुमार पर ठगी का आरोप लगाया। छात्रों के अनुसार 2018 की आइआइटी प्रवेश परीक्षा में आनंद कुमार ने ’सुपर 30’ के 30 में से 26 छात्रों की सफलता का दावा किया था, लेकिन उन्होंने उन छात्रों के नाम का खुलासा नहीं किया। याचिकाकर्ता छात्रों का आरोप है कि आनंद कुमार ने सुपर-30 के रिजल्ट में गलत किया।
छात्रों की याचिका पर गुवाहाटी होईकोर्ट में न्यायमूर्ति अजय लांबा और एएमबी बरुआ की पीठ सुनवाई कर रही है। कोर्ट ने आनंद कुमार को अगली सुनवाई के लिए गुरुवार 28 नवंबर को उपस्थित होने का आदेश दिया है। — वेब