राज्य

आत्महत्या के लिए उकसाने पर राकेश वर्मा गिरफ्तार

इंदिरापुरम में एक ही परिवार के दो बच्चों की हत्या के बाद तीन लोगों की आत्महत्या के मामले में पुलिस ने आरोपी राकेश वर्मा को गिरफ्तार कर लिया है। मृतक गुलशन अपने सुसाइड नोट में आरोप लगाया था कि राकेश वर्मा उनका पैसा वापस नहीं कर रहा है। इसी मामले में पुलिस आरोपी राकेश वर्मा की मां फूला देवी की तलाश कर रही है। यह दोनों आरोपी पहले भी गुलशन की ही शिकायत पर गिरफ्तार होकर धोखाधड़ी के मामले में जेल जा चुके हैं।
आरोपी की गिरफ्तारी के बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि आरोपी राकेश वर्मा और उसकी मां गुलशन का पैसा वापस नहीं करना चाहते थे। इसी मामले में जेल जाने के बाद भी इनकी नीयत में कोई बदलाव नहीं हुआ। इधर, दूसरी ओर गुलशन ने जो पांच फीसदी ब्याज पर कर्ज लेकर राकेश को दिया था, उसका ब्याज दिनों दिन बढ़ता जा रहा था। इससे राकेश और उसका परिवार बेहद तनाव में आ गया था। इसी तनाव की वजह राकेश और उसकी पत्नी ने खुद अपने हाथों से दोनों बच्चों की हत्या की और फिर एक साथ आठवीं मंजिल से कूद कर जान दे दी।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक केशव कुमार ने बताया कि दोनों बच्चों की हत्या के काफी देर बाद गुलशन ने पत्नी और दूसरी महिला के साथ बालकनी से छलांग लगाई है। बच्चे की हत्या के बाद तो उसने दिल्ली के झिलमिल में रहने वाले अपने अंकल को विडियो कॉल कर पूरा दृष्य भी दिखाया है। इस दृष्य को देखने के डेढ़ घंटे बाद तो अंकल खुद मौके पर भी पहुंच गए। लेकिन यदि वह तत्काल पुलिस को सूचना दे दिए होते तो शायद इन तीनों की जान बचाई जा सकती थी। ‑वेब