लखनऊ

अब मरीन ड्राइव पर रोज ’हैपी स्ट्रीट्स’

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में गोमतीनगर के समतामूलक चैराहे के पास मरीन ड्राइव पर अब लोग रोजाना ’हैपी स्ट्रीट्स’ का लुत्फ उठा सकेंगे। राज्य सरकार स्मार्ट सिटी के तहत मरीन ड्राइव को ’हैपी स्ट्रीट्स’ के रूप में डिवेलप करने जा रहा है। इसके तहत विविध आयोजनों के साथ ही खाने-पीने की चीजों के लिए फूड ट्रक भी लगाए जाएंगे। लालबाग स्थित लखनऊ स्मार्ट सिटी लिमिटेड कार्यालय में मंगलवार को मंडलायुक्त मुकेश मेश्राम, डीएम अभिषेक प्रकाश, जॉइंट पुलिस कमिश्नर (जेसीपी) लॉ ऐंड ऑर्डर नवीन अरोड़ा, नगर आयुक्त इंद्रमणि त्रिपाठी, डीसीपी चारू निगम व अन्य अधिकारियों ने बैठक की।
शहर के पार्किंग व्यवस्था को सेंट्रलाइज करने पर भी जोर दिया गया। इसके लिए ’स्मार्ट लखनऊ ऐप’ तैयार किया जा रहा है। इसके जरिए लोग पार्किंग के खाली होने के बारे में जानकारी हासिल कर उसे बुक करवाकर अपने वाहन आसानी से खड़ा कर सकेंगे।
स्मार्ट सिटी के तहत आईआईएम इंदौर के साथ एक एमओयू साइन हुआ है। जिससे शहर के पब्लिक ट्रांसपोर्ट चालकों को यात्रियों के साथ बेहतर बर्ताव का तरीका सिखाया जाएगा। इसके लिए चालकों को आईआईएम के स्टूडेंट्स प्रशिक्षित करेंगे।
डीएम ने बताया कि होली के बाद सभी पार्किंग स्थलों से अतिक्रमण हटवाया जाएगा। साथ ही ओला, उबर सरीखी प्राइवेट टैक्सी चालक कंपनियों के चालकों और प्राइवेट ऑटो चालकों के यूनिफॉर्म भी निर्धारित किए जाएंगे। उनकी ड्रेस पर नेम प्लेट भी होगी, जिससे उनकी पहचान सुनिश्चित की जा सके। ‑वेब