विदेश

युवा फुटबॉल कोच फ्रांसिस्को गार्सिया के कोरोना से मौत, मरने वालों का आकड़ा 7000 के पार

कोरोना वायरस के कहर से कई देशों के राजनेता और खिलाड़ी भी अछूते नहीं हैं। यूरोप में इन दिनों कोरोना तबाही मचा रहा है। दुनियाभर में इस खतरनाक वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 7000 के पार जा चुका है। इटली में पिछले 24 घंटे में 349 तो स्पेन में लगभग 100 की मौत हो गई। स्पेन के युवा फुटबॉल कोच फ्रांसिस्को गार्सिया भी इस वायरस के चपेट में आ गए और उनकी मौत हो गई।
ऐथलिटको पोर्टाडा क्लब में वह कोच थे। वह मात्र 21 साल के थे। जानकारी के मुताबिक वह कैंसर का इलाज भी करवा रहे थे। इस दौरान कोरोना ने उनपर हमला कर दिया। पहले से ही वह एक बीमारी की चपेट में थे और ऐसे में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो गई थी। अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया।
दुनिया के 141 देश कोरोना का दंश झेल रहे हैं। बड़े-बड़े खेल के आयोजन रद्द कर दिए गए हैं उनकी तारीख आगे बढ़ दी गई है। कहीं-कहीं मैच हो भी रहे हैं तो चारों ओर से बंद क्षेत्र में और बिना दर्शकों के। भारत और साउथ अफ्रीका के बीच वनडे सीरीज के शेष दोनों मैच कोरोना वायरस के खतरे के चलते रद्द कर दिए गए। अब यह सीरीज फिर नए शेड्यूल के साथ आयोजित की जाएगी।
इंग्लैंड और श्रीलंका के बीच टेस्ट सीरीज को भी स्थगित कर दिया गया है। कोलंबो से इंग्लिश टीम अब वापस लौटेगी। आईपीएल को भी 17 दिन आगे बढ़ा दिया गया है। पहले यह 29 मार्च से शुरू होने वाले थे लेकिन अब 15 अप्रैल से होंगे।
कोरोना वायरस का असर हॉकी पर भी पड़ा है और प्रतिष्ठित सुलतान अजलान शाह कप को स्थगित करने का फैसला किया गया है। यह टूर्नमेंट मलेशिया की मेजबानी में अगमे महीने 11 अप्रैल से शुरू होना था। अब यह टूर्नमेंट सितंबर में आयोजित किया जाएगा।
डॉ. सुधीर के मुताबिक सोमवार को कुल 15 नमूने जांच के लिए केजीएमयू माइक्रोबायोलॉजी विभाग भेजे गए। इनमें 13 आगरा से भेजे गए। इनमें 12 नमूनों की जांच हुई। जिनमें संक्रमण नहीं मिला। एक नमूने की जांच चल रही है। वहीं रामपुर से भेजे गए एक नमूने की जांच की प्रक्रिया चल रही है। लखनऊ के एक संदिग्ध व्यक्ति का नमूना जांचा गया। इसमें संक्रमण नहीं मिला। ‑वेब