Home » लखनऊ में कोराना विस्फोट, एक दिन में मिले 65 मरीज
लखनऊ

लखनऊ में कोराना विस्फोट, एक दिन में मिले 65 मरीज

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। राजधानी में बुधवार को कोरोना विस्फोट हुआ। एक दिन में दूसरा सर्वाधिक 65 संक्रमित मामले सामने आए हैं। इसमें 23 पीएसी, 13 इंश्योरेंस कंपनी शाहनजफ रोड, 8 इंदिरानगर के एक संक्रमित परिवार के, चार आलमबाग के एक संक्रमित परिवार के व आठ अन्य इलाकों से हैं। ऐसे में अब राजधानी में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 887 हो गई है। वहीं, बाराबंकी में पीएसी के चार जवानों समेत पांच की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली। उधर, हरदोई में छह लोगों में कोरोना मिला है।
शहर के मुहल्ला हुसैनगंज में एक और महिला संक्रमित मिली है। ये महिला दिल्ली से लौटी थी। इसके साथ ही दिल्ली से आई एक अन्य महिला पहले ही पॉजिटिव मिल चुकी है। वह एल‑1 अस्पताल खैराबाद में भर्ती है। इस महिला के पॉजिटिव मिलने के बाद उसके साथ आए अन्य तीन लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। ये सैंपल में एक अन्य महिला व पूर्व में पॉजिटिव मिली महिला के दो बच्चे के थे। जिसमें संबंधित 26 वर्षीय दूसरी महिला भी पॉजिटिव पाई गई है। इसे भी एल‑1 अस्पताल खैराबाद में भर्ती कराया जा रहा है।
राजधानी में लगातार बढ़ रही कोरोना मरीजों की संख्या और बेकाबू होते संक्रमण को काबू में लाने के लिए कंटेनमेंट जोन बनाने के नियम को बदल दिया गया है। नए नियम के तहत अब किसी इलाके में एक भी मरीज मिलने पर उसे कंटेनमेंट जोन बना दिया जाएगा। यह व्यवस्था मंगलवार से ही लागू कर दी गई।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी के निर्देशानुसार, संक्रमित मरीज के 250 मीटर क्षेत्र को 14 दिन के लिए लॉक किया जाएगा। सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि शासन के आदेश पर यह फैसला लिया गया है। अब कंटेनमेंट जोन को 21 दिन के बजाय 14 दिन के लिए सील किया जाएगा। वहीं, इससे पहले दो या इससे अधिक मरीज मिलने के बाद कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाता था। — वेब