लखनऊ

लखनऊ में लापरवाहीः मरीज को कोविड 19 वार्ड मे भर्ती करने से वो भी हुई संक्रमित

Charak Hospital

लखनऊ शहर की एक युवती की कोरोना रिपोर्ट उसी नाम की दूसरी युवती से बदलने और पॉजिटिव रिपोर्ट थमाकर कोरोना वॉर्ड में ऐडमिट करने का मामला सामने आया है। शीशमहल निवासी आबिद इब्राहिम के मुताबिक, उनकी बेटी अलीजा इब्राहीम नोएडा में जॉब करती है और 3 जून को लखनऊ आई है। उसकी तबीयत खराब होने पर चरक अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज से पहले कोरोना जांच के लिए कहा गया।
ों27 जून को टेस्ट हुआ था और 28 को रिपोर्ट पॉजिटिव आई और बेटी को लोकबंधु अस्पताल में ऐडमिट कर दिया गया। अगले दिन उनके पूरे परिवार की रिपोर्ट निगेटिव आई तो परिवार को शक हुआ। जब अस्पताल दोबारा रिपोर्ट लेने गए तो वहां अलीजा तबस्सुम के नाम की रिपोर्ट दी गई।
इस पर परिवार ने कहा कि बेटी का नाम अलीजा इब्राहीम है तो मामला खुला। उन्होंने सीएमओ कार्यालय में सूचना दी तो वहां कहा गया कि यहां भी अलीजा तबस्सुम का रेकॉर्ड है, जिसमें आपका ब्योरा चढ़ा हुआ है। वहीं, अलीजा तबस्सुम नाम की एक मरीज पॉजिटिव आई है।
विभाग को इस लापरवाही की जानकारी हुई तो उसके भी होश उड़ गए। लेकिन अब अलीजा को डिस्चार्ज भी नहीं कर सकते, क्योंकि वो तीन दिन कोविड वॉर्ड में रह चुकी है। ऐसे में उसमें संक्रमण होने का पूरा खतरा है। इसलिए बुधवार को उसे लोकबंधु अस्पताल के अलग कमरे में शिफ्ट कर दिया गया है। वहीं, गुरुवार को उसकी दोबारा जांच करवाई जाएगी। रिपोर्ट निगेटिव आई तो उसे डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। ‑वेब