विदेश

दुनिया भर में हो रहा चीन का विरोध, अमेरिका भी बैन कर सकता है चाइनीज एप्प

Chinese App

नए कानून के तहत सोशल मीडिया कंपनी को कुछ कानूनों का पालन करना होगा, यही कारण है कि अब हांगकांग में ट्विटर, फेसबुक और गूगल समेत कई कंपनियों को नोटिस दिया गया है.
दरअसल, हांगकांग में जो नया सुरक्षा कानून आया है उसका वहां पर काफी विरोध हो रहा है. कानून लागू होने के बाद से लेकर अबतक कई लोगों की गिरफ्तारी भी की जा चुकी है. इसी कानून के तहत सुरक्षा एक्ट में जानकारी साझा करने पर रोक लगाई गई है, जिस तरह चीन में बाहरी ऐप्स पर रोक है.
दूसरी ओर अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने भी कहा है कि अमेरिका भी चीनी सोशल मीडिया एप्स पर बैन का विचार कर रहा है. इनमें टिकटॉक जैसी ऐप भी शामिल होंगी. इससे पहले भारत सरकार ने सुरक्षा का हवाला देकर चीन की 59 मोबाइल ऐप्स पर बैन लगा दिया था, जिसमें टिकटॉक भी शामिल थी.
भारत के इस एक्शन को सांकेतिक तौर पर काफी अहम माना गया और कहा गया कि इसके बाद कई और देश ऐसा कदम उठाएंगे. जो अब सच होता दिख रहा है. चीन के खिलाफ दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में आवाज बुलंद होने लगी हैं. पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में सोमवार को सैकड़ों लोगों ने चीन के खिलाफ प्रदर्शन किया और पाकिस्तानी सरकार पर उसके साथ मिलीभगत करने का आरोप लगाया. यहां मुजफ्फराबाद में लोग चीन और पाकिस्तान के द्वारा मिलकर बनाए जा रहे एक डैम प्रोजेक्ट का विरोध कर रहे हैं.
मुजफ्फराबाद में झेलम और नीलम नदी के पास पाकिस्तानी सरकार चीन की मदद से एक डैम बना रही है. लेकिन मुजफ्फराबाद के निवासियों का कहना है कि इसके बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है, ना ही उनसे कुछ पूछा गया. — वेब