राज्य

आतंकी अबू युसुफ के ठिकानों पर छापेमारी जारी

Terrorist Abu Usuf

बलरामपुरा। मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार आतंकी अबू युसुफ का ठिकाना व संबंध तलाशने के लिए दिल्ली पुलिस तथा यूपी एटीएस की टीम शनिवार दोपहर यहां पहुंची। यह तीनों टीमें उतरौला कोतवाली क्षेत्र के बढ़या भैसाही गांव में मुस्तकीम के घर छानबीन कर रही हैं। इस दौरान आरोपी की निशानदेही पर उसके घर के बगल स्थित तालाब से मानव बम में प्रयुक्त होने वाली दो जैकेट तथा घर से विस्फोटक व आपत्तिजनक साहित्य बरामद होने की सूचना है। पूछताछ में यह भी खुलासा हुआ है कि आतंकी अयोध्या रामजन्म भूमि स्थल को उड़ाने की भी फिराक में थे। हालांकि अभी तक इस बारे में जिले को कोई भी पुलिस अधिकारी आधिकारिक बयान देने को तैैयार नहीं है।
जानकारी के मुताबिक दिल्ली में पकड़े गए अबू युसुफ ने पूछताछ के दौरान बताया कि वह बलरामपुर का रहने वाला है। यह सूचना मिलते ही जिले में हड़कंप मच गया। पुलिस के अलावा अफसर अपनी नाकामी छिपाने के लिए चुप्पी साध ली। सुबह करीब 11 बजे दिल्ली पुलिस बलरामपुर पहुंची। इसके उतरौला कोतवाली के बढ़या भैसाही गांव को स्थानीय पुलिस ने गांव को चारो ओर से सील कर दिया। गांव में आने जाने पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया। मौके पर पहुंचे मीडिया कर्मियों को भी गांव में प्रवेश नहीं दिया गया।
शनिवार देर शाम छानबीन के दौरान दिल्ली पुलिस की दूसरी टीम भी बढ़या भैसाही गांव पहुंच गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस टीम के साथ दिल्ली में गिरफ्तारी आतंकी अबू युसुफ भी है। उसकी निशानदेही पर पुलिस कुछ आपत्तिजनक सामान बरामद कर रही है। बताया जा रहा है कि बम डिस्पोजल दस्ते को भी बुला लिया गया है। यह भी जानकारी मिली है कि कुछ माह पूर्व इस गांव के कब्रिस्तान में ट्रायल के तौर पर एक विस्फोट किया गया था। हालांकि गांव और आसपास का कोई व्यक्ति यह जानकारी देने से कन्नी काट रहा है। पुलिस तथा प्रशासन भी अभी तक मीडिया के सामने नहीं आया है।
मुस्तकीम वर्षों में अन्य प्रदेशों में रहकर प्लास्टर ऑफ पेरिस का काम करता था। कुछ साल पहले यह काम के दौरान हुई दुर्घटना में घायल हो गया। यह घर लौट आया और गांव के बगल स्थित हाशिमपारा बाजार में किराए की दुकान लेकर कास्टमेटिक का कारोबार करने लगा। दुकान मालिक के अनुसार वह सप्ताह में एक‑दो दिन ही दुकान खोलता है। ‑वेब