लखनऊ

अगस्त में टूटा कोरोना मरीजों का रिकाॅर्ड

शहर में कांटेक्ट ट्रेसंिग- टेस्टंिग का काम तेज कर दिया गया है। ऐसे में हर रोज सैकड़ों की तादाद में मरीज उजागर हो रहे हैं। अगस्त में मरीजों का रिकॉर्ड टूट गया है। अब तक जुलाई से दो गुना से अधिक मरीज कोरोना के पाए जा चुके हैं। वहीं मौतों का ग्राफ भी डबल हो गया है। गुुरुवार को 792 मरीजों में वायरस पाया गया है। ऐसे में कुल मरीजों की संख्या 25 हजार पार कर गई है। वहीं शहर के विभिन्न अस्पतालों में 16 मरीजों की मौत हुई है। इसमें 12 मरीज लखनऊ निवासी हैं। इसके अलावा दो लखीमपुर, एक देवरिया, एक शाहजहांपुर के मरीज की इलाज के दरम्यान सांसें थम गईं।
केजीएमयू में कोरोना संक्रमण का प्रकोप नहीं थम रहा है। कुलपति, रजिस्ट्रार, डिप्टी रजिस्ट्रार, सीएमएस व पूर्व एमएस समेत कई अधिकारी वायरस का शिकार हो चुके हैं। वहीं अब तीन डॉक्टर व 20 के करीब स्टाफ वायरस की चपेट में आया है। इसमें सबसे अधिक डेंटल विभाग के हैं। ऐसे में संस्थान में 241 के करीब डॉक्टर-कर्मी कोरोना के शिकार हो चुके हैं। वहीं संस्थान प्रशासन संक्रमित स्टाफ का ब्योरा छिपा रहा है। प्रवक्ता डॉ. सुधीर संिह ने स्टाफ के संक्रमण की जानकारी होने से इंकार किया। स्टाफ की रोज टेस्टंिग जारी है। गुरुवार को 500 कर्मियों का सैंपल लैब भेजा गया है। ‑वेब

Advertisement

Advertisement

Advertisement