लखनऊ

ऑनलाइन एप के जिरिए फंसाया जा रहा युवकों कोः हनी ट्रैप

लखनऊ। कुछ दिनों से राजधानी में ऑनलाइन एप के जरिए हनी ट्रैप का मामला तेजी से सामने आया है। लोगों को अपने जाल में फंसाकर गिरोह उन्हें न केवल मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहा है बल्कि मोटी रकम भी वसूल रहा है। साइबर क्राइम सेल इस गिरोह को दबोचने का प्रयास कर रही है। हालांकि, अभी तक उन्हें कोई सफलता नहीं मिली है।
खास बात यह है कि गिरोह सर्वाधिक युवाओं को निशाना बना रहा है। इसके लिए कई तरह के एप्लीकेशन तैयार किए गए हैं। गिरोह में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हैं। सबसे पहले लिंक भेज कर एप्लीकेशन डाउनलोड करवाया जाता है। इसके बाद लोगों को नार्मल चैट, वीडियो चैट तथा अश्लील चैट समेत अन्य की सूची भेजी जाती है। इसके लिए शुल्क भी लिया जाता है। अगर कोई व्यक्ति चैट करने से इनकार करता है तो उसे डेमो दिखाने के नाम पर झांसे में लेते हैं। इसके बाद वीडियो कॉल कर अश्लील तस्वीरें व वीडियो दिखाते हैं। गिरोह इस दौरान स्क्रीन रिकॉर्डर व अन्य तकनीक का इस्तेमाल कर सामने वाले का वीडियो रिकॉर्ड कर लेता है। इसके बाद जालसाज युवकों को ब्लैकमेल करना शुरू करते हैं। वीडियो वायरल करने की धमकी देकर लोगों से मोटी रकम मांगी जाती है। अगर कोई व्यक्ति रुपये देने से इनकार करता है तो वह उसका वीडियो यूट्यूब पर अपलोड कर देते हैं। ‑वेब

Advertisement

Advertisement

Advertisement