देश

सिर काटे जाने पर मोहम्मद जीशान अय्यूब का बयान: ’धार्मिक कट्टरता और जहालत, हमेशा साथ साथ चलते हैं

Mohammad Zeeshan Ayub

नई दिल्ली। पेरिस में पुलिस और अभियोजन पक्ष के अनुसार, एक इतिहास के शिक्षक, जिन्होंने पैगंबर मोहम्मद का क्लास में कैरिकेचर दिखाया था, उनकी शुक्रवार को सिर काट कर हत्या कर दी गई. बाद में हमलावर को पुलिस ने मार गिराया. अब इस पर बॉलीवुड एक्टर मोहम्मद जीशान अय्यूब का रिएक्शन आया है. जीशान अय्यूब ने ट्वीट करते हुए इस घटना की निंदा की है. उन्होंने लिखा, ’धार्मिक कट्टरता और जहालत, हमेशा साथ साथ चलते हैं.’ एक्टर के इस ट्वीट पर लोग खूब रिएक्ट कर रहे हैं और अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं.
फ्रांसीसी आतंकवाद‑विरोधी अभियोजकों ने कहा कि वे हमले की जांच कर रहे हैं जो पेरिस की सरहद पर शाम 5 बजे पर हुआ, जो कि फ्रांस की राजधानी के पश्चिमी उपनगर कॉनफ्लैंस सेंट‑होनोरिन में एक स्कूल के पास है. एक पुलिस सूत्र के अनुसार, पीड़िता एक इतिहास की शिक्षिका थी जिसने हाल ही में कक्षा में पैगंबर मोहम्मद की क्लास में चर्चा की थी. अभियोजकों ने कहा कि वे इस घटना को ’आतंकवादी संगठन से जुड़ी एक हत्या’ और ’आतंकवादियों के साथ आपराधिक संबंध’ के रूप में मान रहे हैं.
यह आरोप पिछले महीने 25 वर्षीय पाकिस्तानी व्यक्ति के खिलाफ लगाए गए आरोपों के जैसा है जिसने व्यंग्यपूर्ण साप्ताहिक चार्ली हैबडो द्वारा पैगंबर मोहम्मद के कैरिकेचर के प्रकाशन का बदला लेने के लिए दो लोगों को घायल कर दिया था. हमलावर ने एक टीवी प्रोडक्शन एजेंसी के दो कर्मचारियों को गंभीर रूप से घायल कर दिया, जिनके कार्यालय उसी ब्लॉक पर थे, जिसमें चार्ली हेब्दो रहते थे. हालांकि हमले में दोनों बच गए. ‑वेब