Home » वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट की तीन दिवसीय समिट
लखनऊ

वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट की तीन दिवसीय समिट

लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट की तीन दिवसीय समिट का शुभारंभ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने किया और आयोजन के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इसकी बधाई दी। उन्होंने कहा कि लघु एवं मध्यम उद्योग देश के अर्थव्यवस्था की रीढ़ है। ओडीओपी (वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट) से यह और मजबूत होगी। प्रदेश में बड़ी संख्या में रोजगार पैदा होंगे। जिससे युवाओं को खास फायदा होगा और प्रदेश से पलायन रुकेगा।
राष्ट्रपति ने कहा कि प्रदेश की अर्थव्यवस्था वन ट्रिलियन डॉलर की हो सकती है। इसके लिए उत्पादन को बढ़ावा देने के साथ ही उत्पादों की ब्रांडिंग जरूरी है। ओडीओपी योजना इस काम में मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने प्रदेश के उत्पादों की ब्रांडिंग के लिए देश के महानगरों व 2019 में होने वाले कुंभ मेले में प्रदर्शनी लगाने का सुझाव दिया।
राष्ट्रपति ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भी याद किया और कहा कि अटल जी कहा करते थे उत्तर प्रदेश, उत्तम प्रदेश है। जो इसकी खोज कर लेगा उसे पता चलेगा कि यह प्रदेश कितना संभावनाओं से भरा हुआ है। यूपी में ताजमहल है। कई नदियां हैं और देश का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है जो प्रदेश को सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने में मदद कर सकता है। उन्होंने कहा कि मैंने अलग-अलग जिलों के उत्पादों की प्रदर्शनी देखी। उत्तर प्रदेश बहु प्रतिभाओं की खान है।
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कार्यक्रम में बटन दबाकर व्यापारियों को 1006 करोड़ रुपये का ऋण दिया। जिसमें कानपुर के व्यापारी अतुल शर्मा को लेदर शूज के बिजनेस के लिए 35 लाख रुपये लोन मिला। लखनऊ के मोहित वर्मा को चिकनकारी के लिए 10 लाख रुपये का लोन मिला। उन्होंने कार्यक्रम में कॉफी टेबल बुक का विमोचन किया और इसकी एक प्रति राज्यपाल राम नाईक को सौंपी। -वेब

Advertisement

Advertisement

Advertisement