Home » पांच साल की मासूम की गला दबाकर हत्या
लखनऊ

पांच साल की मासूम की गला दबाकर हत्या

लखनऊ। महानगर इलाके में दो दिन से लापता पांच साल की मासूम की गला दबाकर हत्या करने के बाद शव दो बोरियों में भरकर पेपर मिल कॉलोनी के पास नाले में फेंक दिया गया। रविवार सुबह पुलिस को शव मिला तो स्थानीय लोग आक्रोशित हो उठे। लोगों ने शव पुलिस की जीप से खींच लिया। सख्ती पर पुलिस पर पथराव कर दिया और लखनऊ-अयोध्या हाईवे पर शव रखकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने मासूम से दुष्कर्म की आशंका जताई है।
पुलिस ने लाठीचार्ज कर लोगों को खदेड़कर शव पोस्टमार्टम को भेजवाया। इस दौरान करीब पांच घंटे तक हाईवे जाम रहा। एसपी टीजी हरेंद्र कुमार ने बताया कि बच्ची के पड़ोस में रहने वाले ननके व उसके तीन बेटों को पकड़ा गया। ननके के 16 वर्षीय बेटे ने बच्ची के दांत से काटने पर वारदात अंजाम देना कुबूला है। एसपी टीजी हरेंद्र कुमार ने बताया कि महानगर के अकबर नगर पार्ट-टू में रहने वाले कबाड़ी की बेटी शुक्रवार दोपहर करीब एक बजे घर के बाहर खेलते हुए लापता हो गई थी। मासूम के पिता ने हत्या की आशंका जताते हुए गुमशुदगी दर्ज कराई थी।
ननके मूलरूप से बहराइच का रहने वाला है। बच्ची की तलाश में पुलिस की एक टीम वहां भी गई थी। शनिवार शाम पुलिस ने ननके के नाबालिग बेटे को भी पकड़ लिया। पूछताछ में उसने बताया कि शुक्रवार को वह बच्ची के साथ खेल रहा था। बच्ची ने उसके हाथ में दांत से काट लिया। उंगली से खून निकलने के चलते गुस्से में आकर उसने मासूम का गला दबा दिया। इसके बाद गर्दन पर कुल्हाड़ी से वार कर दिया। बच्ची की गर्दन आधी कट गई थी। इसके बाद उसने शव झोपड़ी में रखा और परिवारीजनों को वारदात की जानकारी दी।
नाबालिग ने कुबूला कि उसके पिता और भाइयों ने घर में फैले खून को मिटाने की कोशिश भी की थी। इसके बाद बच्ची के शव को प्लास्टिक की दो बोरियों में बंद कर कुकरैल नाले के पिलर नंबर-9 के पास फेंक दिया था। इसके बाद किशोर को वहां से भगा दिया था। पुलिस ने उनकी निशानदेही पर ननके के घर से वारदात में इस्तेमाल कुल्हाड़ी भी बरामद कर ली है। -वेब

Advertisement

Advertisement

Advertisement