Home » कर्जे में डूबे व्यपारी ने सूदखोरों से बचने के लिए की आत्महत्या
लखनऊ

कर्जे में डूबे व्यपारी ने सूदखोरों से बचने के लिए की आत्महत्या

लखनऊ के गाजीपुर थानाक्षेत्र के इंदिरानगर सी ब्लॉक में सूदखोरों की प्रताड़ना से तंग आकर व्यापारी अनादि त्रिपाठी (45) ने रविवार रात खुदकुशी कर ली। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम को भेजकर जांच शुरू कर दी है। प्रभारी निरीक्षक गाजीपुर राकेश कुमार सिंह के मुताबिक अनादि की पत्नी अनीता कुछ दिन पहले मायके गई थी।
रविवार रात वह लौटी तो कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। काफी देर खटखटाने पर भी कोई जवाब न मिला तो आवाज सुनकर परिवारीजन आ गए। उन्होंने खिड़की से झांका तो अंदर कुंडे से अनादि का शव फंदे पर लटका रहा था। पुलिस ने आनन-फानन दरवाजा तोड़कर शव उतारा।
परिवारीजनों ने बताया कि अनादि कुछ लोगों के साथ पार्टनरशिप में व्यापार करता था। घाटा हुआ तो साझेदार किनारे हो गए। लाखों की उधारी पर अनादि ने कुछ सूदखोरों से पैसा लिया, जो ब्याज लगाकर रुपये वसूलने लगे। अनादि ने उन्हें काफी रुपये दे भी दिए, फिर भी वे लोग लगातार प्रताड़ित कर रहे थे। रविवार को भी कुछ लोग घर पर आकर उसे रुपये चुकाने की बात कहकर धमकाकर गए। इससे तंग आकर अनादि ने जान दे दी। -वेब

Advertisement

Advertisement

Advertisement