Home » काश्मीरी राजनीतिक दलों के 14 नेताओं के साथ आज बैठक
देश

काश्मीरी राजनीतिक दलों के 14 नेताओं के साथ आज बैठक

पीएम मोदी के संग कश्मीरी नेताओं की बैठक में आज दोपहर 3 बजे से शुरू होगी। हालांकि, सर्वदलीय बैठक के एजेंडा का खुलासा नहीं किया गया है। पीएम मोदी संग बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती जैसे कई बड़े नेता मौजूद रहेंगे। जम्मू-कश्मीर पर सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लेने के लिए नेशनल कॉन्फ्रेंस के वरिष्ठ नेता फारूक अब्दुल्ला दिल्ली पहुंच गए। गुरुवार को दिल्ली में मीडिया से बात करते हुए फारूक अब्दुल्ला ने महबूबा मुफ्ती के बयान से किनारा कर लिया। उन्होंने कहा कि हमें पाकिस्तान के बारे में बात नहीं करनी है बल्कि अपने वतन के बारे में चर्चा करनी है। उन्होंने कहा कि महबूबा मुफ्ती का पाकिस्तान पर बयान निजी है। इससे उन्हें कोई लेना देना नहीं है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जम्मू-कश्मीर को लेकर सर्वदलीय बैठक से पहले कश्मीरी पंडित इसके विरोध में उतरे। कश्मीर पंड़ितों ने सर्वदलीय बैठक का विरोध किया और जम्मू में प्रदर्शन भी किया गया।
पीएम मोदी के साथ बैठक से पहले सीपीआई-एम नेता युसुफ तारीगामी ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव कराने से किसने रोका ? हमारी आवाम के सामने यह भी मुद्दा है कि हमारी एक दूसरे से नाराजगी हो सकती है लेकिन हम अलग नहीं होना चाहते। सरकार ने बिना किसी से पूछे केंद्र शासित प्रदेश में बदल दिया और बांट दिया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कश्मीरी नेताओं की बैठक से पहले गृह मंत्री अमित शाह ने पीएम आवास पहुंच कर एजेंडा तय किया। पीएम मोदी और गृह मंत्री शाह के बीच कश्मीरी नेताओं संग बैठक से पहले घंटों मंथन चला।
महबूबा के पाकिस्तान से बातचीत वाले बयान पर बवाल शुरू हो गया। जम्मू में डोगरा फ्रंट ने उनके खिलाफ प्रदर्शन किया। उनका कहना है कि महबूबा को ऐसा बयान नहीं देना चाहिए। वे राज्य में अशांति फैला रही हैं। इसके लिए उन्हें जेल की सलाखों के पीछे डाल देना चाहिए।
प्रधानमंत्री मोदी की ओर से जम्मू-कश्मीर के करीब 14 राजनीतिक दलों, प्रतिनिधियों को बैठक में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, एनएसए अजित डोभाल, उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और अन्य बड़े अधिकारी रहेंगे। इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर से फारूक अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती, गुलाम नबी आजाद, निर्मल सिंह, रविंद्र रैना, हुसैन बैग, सज्जाद लोन, भीम सिंह, युसूफ तारिगामी शामिल होंगे।
पीएम मोदी संग बैठक में शामिल होने के लिए दिल्ली रवाना होने से पहले जम्मू-कश्मीर के भाजपा अध्यक्ष रविंद्र रैना ने महबूबा मुफ्ती पर हमला किया। पाकिस्तान वाले बयान पर बोलते हुए रैना ने कहा कि गोली और बोली एक साथ नहीं चल सकती। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से बात तभी हो सकती है, जब पाकिस्तान अमन और भाईचारे की स्थापना करें और अपने सभी राज ने आतंकी शिविरों को बंद करे। -वेब

Advertisement

Advertisement

Advertisement