Home » अफगान फोर्सेज की जवाबी कार्यवाही में तालिबान की टूटी कमर
विदेश

अफगान फोर्सेज की जवाबी कार्यवाही में तालिबान की टूटी कमर

तालिबान एक के बाद एक कई शहरों पर कब्जा करता जा रहा है परन्तु इन सबके बीच ऐक्शन में आई अफगान फोर्सेज ने तालिबान के ठिकानों पर जबरदस्त हवाई हमले करके उनकी कमर तोड़ दी है। यही कारण है कि तालिबान से कई ठिकानों पर फिर से अफगान सेना का कब्जा हो गया है। उधर, अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने एक बार फिर तालिबान को हराने की कसम खाई है।
अफगानिस्तान के रक्षा मंत्रालय ने बताया है कि अफगान सरकारी बलों ने बुधवार को तालिबान के ठिकानों पर हमला करके बदघिस प्रांत की राजधानी काला-ए‑नौ पर कब्जा कर लिया है। अफगान सेना ने इस क्षेत्र में सैकड़ों नए सैनिकों को तैनात किया है। यह राज्य मध्य एशियाई देश तुर्कमेनिस्तान की सीमा के करीब स्थित है। राजधानी पर कब्जे के लिए अफगान सेना ने स्पेशल कमांडो यूनिट को जंग के मैदान में उतारा है।
स्थानीय निवासियों ने बताया कि 75000 की आबादी वाले इस शहर में बहुत से लोग अपने घरों से भागकर पास के जिलों में या पड़ोसी हेरात प्रांत में चले गए हैं। दुकानें बंद हैं और सड़कों पर शायद ही कोई दिखाई दे रहा है। लोगों ने बताया कि तालिबान लड़ाके अभी भी शहर में घूम रहे हैं। वे अपनी मोटरसाइकिलों पर सड़कों पर गश्त लगा रहे हैं। बदघिस प्रांतीय परिषद के सदस्य जिया गुल हबीबी ने कहा कि तालिबान को भारी नुकसान उठाना पड़ा है, लेकिन उन्होंने अभी भी हमें चारों तरफ से घेर रखा है। ‑वेब